Romantic Shayari in Hindi – प्रेम प्रसंगयुक्त शायरी – Shayari on Love

Romantic Shayari in Hindi – प्रेम प्रसंगयुक्त शायरी – Shayari on Love, Latest Hindi Romantic Shayari Collection for Girlfriend, Boyfriend, Husband, Wife प्रेम प्रसंगयुक्त शायरी एक बहुत ही अद्भुत और आकर्षक तरीका है अपने प्रेम और भावनाओं को प्रगट करने का । यह शायरी ख़ास कर के उन जवां लोगों के लिए बहुत लाभदायक है जो लोग एक दुसरे से प्रेम करते है क्यूंकि यह सायरी प्रेम को प्रगट करता है । इसीलिए आज मैं आप सभी लोगों के लिए ऐसे ही शयरिओं का समूह ले कर आया हूँ ।

Romantic Shayari, Shayari on Love
Latest Hindi Romantic Shayari Collection for Girlfriend / Boyfriend and Husband / Wife.

बहना नहीं आता:

दिल का हाल बताना नहीं आता,
किसी को ऐसे तड़पना नहीं आता,
सुन्ना चाहते हैं आपकी आवाज़,
मगर बात करने का बहन नहीं आता ।

वो पल:

सुकून मिलता है जब उनसे बात होती है,
हज़ार रातों में वो एक रात होती है,
निगाह उठाकर जब देखते हैं वो मेरी तरफ,
मेरे लिए वही पल पूरी कायनात होती है ।

यादें बसा के:

प्यार करो तो हमेशा मुस्कुरा के,
किसी को धोखा न दो अपना बन के,
कर लो याद जब तक हम जिन्दा है,
फिर न कहना की चले गए दिल में यादें बसा के ।

तुम्हारे प्यार की दास्ताँ लिखी है:

दिल में तुम्हारे प्यार की दास्तां लिखी है,
न थोड़ी न तमाम लिखी हैं,
कभी हमारे लिए भी दुआ कर लिया करो सनम,
हमने तो हर एक सांस तुम्हारे नाम लिखी है ।

आपको याद किया करते हैं :

हम हर एक पल हंस कर जिया करते हैं,
आपसे दिल की बात किया करते हैं,
आप बहुत ख़ास हो हमारे लिए,
तभी हर वक़्त आपको याद किया करते हैं ।

एक बात कहूँ:

सुन लो जो अगर तो एक बात कहूं,
तेरे दिल को मैं अपनी कायनात कहूं,
बसा कर तुझे अपनी जिस्मों जान में,
मोहब्बत को मैं अपनी हयात कहूं ।

आशिक्व बनाया आपने:

कलम थी हाथ में लिखना सिखाया आपने,
ताकत थी हाथ में होसला दिलाया आपने,
मंज़िल थी सामने रास्ता दिखाया आपने,
हम तो सिर्फ दोस्त थे, आशिक्व बनाया आपने ।

कभी लफ्ज़ भूल जाऊं:

कभी लफ्ज़ भूल जाऊं कभी बात भूल जाऊं,
तुझे मैं इस कदर चाहूँ की अपनी जात भूल जाऊं,
उठ कर जो कभी तेरे पास से गुजरूं, तो,
जाते जाते कभी खुद को तेरे पास भूल जाऊं ।

तुम जान हो हमारी:

ये याद है तुम्हारी या यादों में तुम हो,
ये ख्वाब है तुम्हारे या ख्वाबों में तुम हो,
हम नहीं जानते हमें बस इतना बता दो,
हम जान हैं तुम्हारी या हमारी जान तुम हो ।

इश्क़ तुझसे करती हूँ:

इश्क़ तुझसे करती हूँ मैं जिंदगी से ज़्यादा,
मैं डर्टी नहीं मौत से तेरी जुदाई से ज़्यादा,
चाहे तो आजमा ले मुझे किसी और से ज्यादा,
मेरी ज़िन्दगी मैं खुश नहीं तेरी मुहब्बत से ज़्यादा ।

कैसे कहूँ:

कैसे कहूँ कि अपना बना लो मुझे,
बाहों में अपनी समां लो मुझे,
आज हिम्मत करके कहता हूँ की,
मैं तुम्हारा हूँ अब तुम ही सम्भालो मुझे ।


यदि आप लोगों को यह लेख पसंद आया हो तो कृपा इसे अपने दोस्तों, रिस्तेदारों और जानकारों को शेयर करना न भूलिए । अभी शेयर कीजिये अपने Facebook, Twitter और Google Plus पर ।


हमें फौलो कीजिये :

Facebook: https://www.facebook.com/hindigyaan
Twitter: http://twitter.com/hindigyaan
Pinterest: https://www.pinterest.com/hindigyaan

HindiGyaan.com की सभी नए पोस्ट को अपने इ-मेल के इनबॉक्स में तुरंत पाने के लिए अभी सब्सक्राइब कीजिये: Subscribe Us

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *