Good Night Shayari in Hindi – Shubh Ratri Shayari – शुभ रात्रि शायरी

Good Night Shayari in Hindi – Shubh Ratri Shayari – शुभ रात्रि शायरी – इस शायरी का इस्तेमाल करके आप अपने दोस्तों, रिश्तेदारों और उन सभी लोगों को जिनसे आप प्रेम रखते हैं या जिनसे आपको लगाव है रात्रि विश कर सकते हैं । प्रेमी जोड़ा भी शुभ रात्रि शायरी का इस्तेमाल कर सकते हैं एक दूसरे को रात्रि विश करने के लिए । इसीलिए आज मैं आप लोगों के लिए कुछ बेहतर सुबह रात्रि शायरी लेकर आया हूँ ।

Good Night Shayari, Subh Ratri Shayari
Best Collection of Good Night Shayari in Hindi Language with image

दूर होकर भी कितने अपने हैं:

इन पलकों मे कैद कुछ सपने हैं,
बेगाने हैं कुछ तो कुछ आपने हैं,
ना जाने कैसी कशिश सी है इन ख्यालों में,
कुछ लोग दूर होकर भी कितने अपने हैं ।
गुड नाईट फ्रेंडजजज स्वीट ड्रीमजजजज 🙂

तू चाँद और मैं सितारा:

तू चाँद और मैं सितारा होता,
आसमान में एक आशियाँ हमारा होता,
लोग तुम्हे दूर से देखते,
नज़दीक से देखने का हक़ बस हमारा होता । शुभ रात्रि ।

रात का अँधेरा:

रात का अँधेरा कुछ कहना चाहता है,
ये चाँद चांदनी के साथ रहना चाहता है,
हम तो तनहा ही खुश थे,
मगर पता नहीं क्यों ये दिल किसि के साथ रहना चाहता है ।
शुभ रात्रि ।

हमें याद करना भूल गए:

रात क्या हुई रौशनी को भूल गए,
चाँद क्या निकला सूरज को भूल गए,
मान कुछ देर हमने आपको मैसेज नहीं किया,
तो क्या आप हमें याद करना भूल गए । शुभ रात्रि ।

तो आपकी याद आ गई:

देखो फिर रात याद आ गई,
गुड नाईट कहने की बात याद आ गई,
हम बैठे थे सितारों की पनाह में,
चाँद को देखा तो आपकी याद आ गई । शुभ रात्रि ।

ये देख कर चाँद भी मुस्कुराने लगा:

मंजर चांदनी का नजर आने लगा है,
आसमान सितारों से झिलमिलाने लगा है,
ख्वाब तुम्हारा अब मुझे सताने लगा है,
ये देख कर चाँद भी मुस्कुराने लगा है । शुभ रात्रि ।

चाँद की चांदनी ने:

चाँद की चांदनी ने एक पालकी बनाई है ,
और ये पाली हमने बड़े प्यार से सजाई है,
दुआ है तुमसे ए हवा जरा धीरे चलना,
मेरे प्यार को बड़ी ही प्यारी नींद आई है । शुभ रात्रि ।

मेरी साँसों में बिखर जाओ:

मेरी साँसों में बिखर जाओ तो अच्छा है,
बन के रूह मेरे जिस्म में उतर जाओ तो अच्छा है,
किसी रात तेरी गॉड में सर रख कर सो जाऊं,
उस रात की कभी सुबह न हो तो अच्छा है । शुभ रात्रि ।

रात में तुझे देख:

अगर मैं हद से गुजर जाऊं तो मुझे माफ़ करना,
तेरे दिल में उतर जाऊं तो मुझे माफ़ करना,
रात में तुझे देख के तेरे दीदार की खातिर,
पल भर जो ठहर जाऊं तो मुझे माफ़ करना । शुभ रात्रि ।

देखो रात में सपने प्यारे:

बिकल आया चाँद बिखर गए सितारे,
सो गए पंछी सो गए ये नज़ारे,
खो जाओ आप भी मीठे ख्वाबों में,
देखो रात में सपने प्यारे प्यारे । शुभ रात्रि ।

चमकते चाँद को:

चमकते चाँद को नींद आने लगी,
आपकी खुसी से दुनिया जगमगाने लगी,
छूकर आपको हवा भी मुस्कुराने लगी,
देख के आपको हर काली गुनगुनाने लगी ।शुभ रात्रि ।

बहुत लम्बी ये है घड़ियाँ:

तेरे बिना कैसे गुजरेगी मेरी ये रातें,
तन्हाई का गम कैसे सहेगी ये रातें,
बहुत लम्बी ये है घड़ियाँ इंतज़ार की,
अब करवट बदल बदल कर कटेगी ये रातें । शुभ रात्रि ।

तो दोस्तों शुभ रात्रि शायरी का यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके बताएं और अगर आपके पास कोई और शुभ रात्रि शायरी हैं तो हमसे जरूर शेयर करें आपके नाम के साथ हम उस शायरी को इस लिस्ट में इन्वॉल्व करेंगे ।

उम्मीद है आप सभी लोगों को यह लेख पसंद आया होगा । यदि आपको यह लेख पसंद आया है तो कृपा इसे अपने दोस्तों, रिस्तेदारों और जानकारों से शेयर जरूर कीजिये । अभी शेयर करने के लिए नीचे दिए सोशल शेयर बटन का उपयोग कीजिये और इसे अपने फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस और अन्य सोशल नेटवर्क प्रोफाइल में शेयर कीजिये ।

हिन्दिज्ञान से जुड़े रहने के लिए अभी फॉलो कीजिये:

Facebook: https://www.facebook.com/hindigyaan
Twitter: http://twitter.com/hindigyaan
Pinterest: https://www.pinterest.com/hindigyaan
Google Plus: https://plus.google.com/+HindiGyaan

HindiGyaan.com के सभी नए लेख को तुरंत और सीधे अपने इ-मेल के इनबॉक्स में पाने के लिए अभी सब्सक्राइब कीजिये: Subscribe Us

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *